EPFO : प्राइवेट नौकरी करने वालों को सरकार देगी तोहफा, बढ़ेगा वेतन

New Delhi: प्राइवेट जॉब की बात करें तो देश के करोड़ों लोगों के लिए बड़ी खुशखबरी आने वाली है। कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (EPFO) ऐसे लोगों के लिए मौजूदा वेतन सीमा बढ़ाने का फैसला लेने जा रहा है. जानकारी के मुताबिक मौजूदा वेतन सीमा 15000 हजार रुपये बढ़ाकर EPFO ​​को 21,000 रुपये प्रति माह किया जा सकता है. उल्लेखनीय है कि इससे पहले वेतन सीमा में अंतिम संशोधन वर्ष 2014 में किया गया था।

ईपीएफओ बोर्ड के लिए अंतिम निर्णय पर पहुंचने से पहले सरकार की मंजूरी लेना अनिवार्य हो गया है, क्योंकि सरकार की मंजूरी से बोर्ड इस दिशा में कोई कदम उठाने जा रहा है.

फिलहाल केंद्र सरकार ईपीएफओ को मिलाकर कर्मचारी पेंशन योजना पर सालाना 6,750 करोड़ रुपये खर्च करने की शुरुआत कर रही है। अगर वेतन की सीमा बढ़ा दी गई है तो सरकार को अतिरिक्त बोझ उठाना पड़ सकता है और इसके लिए बजट में अलग से प्रावधान करना जरूरी माना जा रहा है.

आंकड़ों के मुताबिक वेतन सीमा बढ़ाने पर देश में 75 लाख से ज्यादा कर्मचारियों को इस योजना का लाभ मिलना शुरू हो जाएगा.

पिछला संशोधन वर्ष 2014 में किया गया था

फिलहाल ईपीएफ योजना उन वेतनभोगी लोगों के लिए जरूरी मानी जाती है जिनकी सैलरी 15,000 रुपये से कम हो गई है। इसमें से सरकार की माने तो कर्मचारी के मूल वेतन का 1.6 प्रतिशत अंशदान के रूप में दिया जा रहा है।

यदि वेतन सीमा को सीधे 15,000 रुपये से बढ़ाकर 21,000 रुपये करने के बाद काम किया जा रहा है, तो देश में 75 लाख से अधिक कर्मचारी इस योजना के दायरे में आ सकते हैं। माना जा रहा है कि इससे पहले आखिरी वेतन सीमा साल 2014 में बढ़ाई गई थी।

Leave a Comment

Your email address will not be published.